इस बार रंगों का त्योहार, नेचुरल और हर्बल रंगों के साथ

इस बार रंगों का त्योहार, नेचुरल और हर्बल रंगों के साथ

हर तरफ युवा वर्ग होली मनाने के लिए बहुत ही रोमांचित रहता है। बिना रंग के  होली खेलने की कल्पना नहीं की जा सकती। लेकिन सबसे मुश्किल बात यह है कि इन रंगों में जो केमिकल्स पाए जाते है उससे हमारी आँखों और त्वचा को कितना नुक्सान होता है। आज के लेख में हम आपको कुछ ऐसे टिप्स और विधि बताएगे जिससे आप प्राकृतिक रंग बना सकते है। यह रंग आप आकर्षक और चटकीले रंग के बना सकते है और होली का भरपूर आनंद ले सकते है।

जानिये हर्बल रंग बनाने की विधि:-

गुलमोहर की पत्तियों को सबसे पहले सूखा ले उसके बाद में महीन पावडर कर ले। इसे आप हरे रंग के रूप में इस्तेमाल कर सकते है।

जासवंती के फूलों को सुखाकर आप उसका पाउडर बना सकते है। आप इसकी मात्रा बढ़ाने के लिये इसमें आटा मिला सकते है। इसके अंदर आप सूखा या गीला लाल रंग बना सकते है।

इस रंग को बनाने के लिए दो छोटे चम्मच लाल चन्दन पाउडर को पांच लीटर पानी में डालकर उबाल ले। इसके अंदर बीस लीटर पानी और डाले। अनार के छिलकों को पानी में उबालकर भी लाल रंग बनाया जा सकता है।

बुरांस के फूलों को रातभर पानी में भिगो कर भी लाल रंग बनाया जा सकता है, लेकिन यह फूल सिर्फ पहाड़ी क्षेत्रों में पाया जाता है।

जामुन को बारीक पीस लें और पानी मिला लें। इससे बहुत ही सुंदर नीला रंग तैयार हो जाएगा।

Also Read:

सुंदरता के साथ बेहतर सेहत का वादा सोयाबीन के साथ

दांतों को ब्रश करने का सही तरीका क्या है

अगर स्किन एलर्जी है तो अपनाएं यह 5 टिप्स

जानिये घर पर ध्वज लहराने से क्या होगा

Like and Share our Facebook Page.

 Back to Top