रोचक खबर

नाबालिग बेटी-भतीजी से देह व्यापार कराने वाली महिला गिरफ्तार, इंटरनेट पर ऐड दे ढूंढ़ती थी ग्राहक

अर्जेंटीना की पुलिस ने 42 वर्षीय एक महिला को कथित तौर पर उसकी 15 वर्षीय बेटी और भतीजी को देह व्यापार में धकेलने के आरोप में गिरफ्तार किया है। महिला पर उसकी नाबालिग लड़की और भतीजी को इंटरनेट के जरिये जिस्मफरोशी के धंधे में लगाने का आरोप है।

अर्जेंटीना की पुलिस ने 42 वर्षीय एक महिला को कथित तौर पर उसकी 15 वर्षीय बेटी और भतीजी को देह व्यापार में धकेलने के आरोप में गिरफ्तार किया है। महिला पर उसकी नाबालिग लड़की और भतीजी को इंटरनेट के जरिये जिस्मफरोशी के धंधे में लगाने का आरोप है। पुलिस ने महिला को ब्यूनोस ऐयर्स के पिनामार इलाके से गिरफ्तार किया, जहां उसने इंटरनेट के माध्यम से लड़कियों का यौन सेवाएं देने वाला इश्तेहार दिया था। पुलिस ने जो तस्वीरें जारी की हैं उनमें अश्लील हरकतों को अंजाम देने वाला साजो-सामान बरामद हुआ है। महिला के घर से कई मोबाइल फोन भी बरामद किए गए हैं, जिनके जरिये गोरखधंधा चलाया जाता था। डेलीमेल की खबर के मुताबिक पुलिस अधिकारियों को यह भी पता चला है कि उनमें से एक लड़की ने बच्चे को जन्म दिया है। स्थानीय मीडिया के अनुसार लड़कियां अपनी मां और आंटी के घर क्रिसमस की शाम को छुट्टियां बिताने के मकसद से गई थीं।

स्थानीय मीडिया के अनुसार अगर बच्चियों का कहीं सौदा होता तो महिला उन्हें किराये के मकान में या फिर ग्राहक की बताई जगह पर ले जाती थी। बच्चियों का सौदा करते वक्त महिला उनकी उम्र 18 साल से ऊपर बताती थी। ग्राहक को खुश करने के लिए एक लड़की को 57 पाउंड यानी करीब 5 हजार रुपये मिलते थे जो कि अर्जेंटीना की मुद्रा ‘पेसो’ के हिसाब से ‘1500’ होते हैं। पुलिस ने बताया कि आरोपी महिला के घर पर छापेमारी के बाद लड़कियों की उम्र के बारे में जानकारी लग पाई। लेकिन पुलिस ने महिला की भतीजी की उम्र का जिक्र नहीं किया है।

लड़कियों और बच्चे की देखभाल की जिम्मेदारी सामाजिक संस्थाओं को दी गई है और महिला के खिलाफ नाबालिग लड़कियों का शोषण करने आरोप में मामला दर्ज किया गया है। अगर महिला पर लगे आरोप साबित होते हैं तो उसे 10 साल जेल की सजा का सामना करना पड़ सकता है। सरकारी वकील वाल्टर मेकुरि ने मामले को ‘वेश्यावृत्ति का प्रचार और सुगमता’ बताया। बताया जा रहा है कि जिस्मफरोशी के इस धंधे में ज्यादातर ग्राहक पर्यटकों में से होते थे, जबकि कुछ स्थानीय भी थे।

फेसबुक पेज को लाइक जरूर करे –  https://www.facebook.com/roundbubbles

source; jansatta.com

Related posts

जानिए कैसे है मासूमों का भविष्य खतरे में है- बाल मजदूरी

roundbubble

36 साल पहले शत्रुघ्न सिन्हा ने किया था जिस सच का सामना, आज जुबां पर आई वो बात

roundbubble

आसाराम वाली जेल मे रहेंगे सलमान खान

roundbubble

8 comments

Leave a Comment