जानिए घर में पूजा- पाठ करने के सही तरीकों  के बारे में

जानिए घर में पूजा- पाठ करने के सही तरीकों  के बारे में

लोग अक्सर कोई भी शुभ काम शुरू करने से पहले या फिर किसी काम में सफलता पाने  के लिए घर में पूजा पाठ करवाते हैं ताकि उन्हें अपने लक्ष्य में सफलता प्राप्त हो सके। पर क्या आप जानते हैं  घर में पूजा पाठ और मांगलिक उत्सव करने का क्या है सही तरीका जिससे आपकी मनोकामना जल्दी पूरी हो सके।

आइए जानिए कि पूजा पाठ करते समय किन बातों का आपको ध्यान रखना चाहिए:

घर में पूजा पाठ करने का सही स्थान क्या होना चाहिए :

  • घर में मंदिर का स्थान हमेशा पूर्व या उत्तर दिशा में होना चाहिए।
  • घर का मंदिर लकड़ी का बना होना चाहिए।
  • घर में मंदिर के आसपास कोई गंदगी नहीं होना चाहिए। उसे हमेशा साफ सुथरा रखना चाहिए।

घर के मंदिर का मुख्य रंग क्या होना चाहिए:

  • मंदिर का रंग हल्का पीला या नारंगी होना चाहिए।
  • घर के मंदिर में हमेशा हल्की पीली लाइट का प्रयोग होना चाहिए।
  • मंदिर में गहरे नीले रंग का उपयोग नहीं करना चाहिए।

घर के मंदिर में क्याक्या रखना चाहिए:

  • घर के मंदिर में हलके पीले रंग का या लाल रंग के वस्त्र पहनने चाहिए।
  • भगवान गणपति और महालक्ष्मी का स्वरूप रखना चाहिए।
  • अपने इष्ट और अपने कुल गुरु का चित्र जरूर रखना चाहिए।
  • हमेशा एक तांबे के लोटे में गंगाजल भरकर रखना चाहिए।

घर का मंदिर बनाते समय क्या सावधानी रखनी चाहिए:

  • घर का मंदिर दक्षिण पश्चिम दिशा में नहीं बनाना चाहिए।
  • मंदिर के आसपास कोई गंदगी नहीं होना चाहिए।
  • मंदिर शौचालय के पास बिल्कुल नहीं होना चाहिए।
  • मंदिर के आसपास जूते चप्पल नहीं रखने चाहिए।

किस दिशा में बैठकर भजन कीर्तन करना चाहिए:

  • हमेशा भजन कीर्तन पूर्व या उत्तर दिशा में मुंह करके किया जाना चाहिए तो सर्वोत्तम रहता है अन्य किसी दिशा में किया गया भजन कीर्तन मन में उत्साह नहीं ला पाता।
  • भजन कीर्तन करने से पहले भगवान मंगल मूर्ति के चित्र को हमेशा स्थापित करनी चाहिए और उसके बाद ही भजन कीर्तन शुरू करना चाहिए।
  • जिस भी देवी देवता का भजन किया जा रहा है उसके चित्र के सामने गाय के घी का दीपक और धूप अवश्य जलाना चाहिए और  जल का पात्र भी रखना चाहिए।

घर में पूजा पाठ और जाप का पूरा फल पाने के लिए करें ये सरे उपाय:

  • घर में पूजा पाठ करते समय श्वेत गुलाबी या हल्के पीले वस्त्र पहनकर ही पूजा करनी चाहिए।
  • हमेशा लाल या पीले आसन पर बैठकर ही मंत्र जाप करना चाहिए।
  • आपको जाप हमेशा लाल चंदन की माला या रुद्राक्ष की माला से करनी चाहिए।
  • आपको जाप शुरू करने से पहले भगवान गणपति व गुरु और अपने इष्ट का ध्यान करना चाहिए। उसके बाद ही जाप शुरू करना चाहिए।

सभी परेशानियों को दूर करने के उपाय:

  • घर में अगर बिना कारन कलह रहता हो तो प्रतिदिन सुबह गायत्री मंत्र का १०८  बार जाप करें।
  • घर में यदि कोई बीमार रहता हो तो महामृत्युंजय मंत्र का जाप करना चाहिए। साथ ही शिवलिंग पर कच्चा दूध चढ़ाना चाहिए।
  • घर में धन की कमी हो तो श्री नारायण भगवान को पीले पुष्प चढाने चाहिए।
  • घर में पति पत्नी में विवाद हो तो संयुक्त रूप से शिव पार्वती जी का पूजन करना चाहिए।
  • घर में नकारात्मक ऊर्जा के प्रवेश को रोकने के लिए मुख्य द्वार पर आम के पत्तों की बंदनवार लगनी चाहिए।

यह भी पढ़िए:

भारत के उत्तर भाग में 50 के पार, इस तरह रखें खुद को सुरक्षित

कैदी द्वारा ऑनलाइन शॉपिंग जेल में, तीन हज़ार रु तक की होगी सीमा

साइकिल का भारत से है खास कनेक्शन, जानिए साइकिल चलने के पांच फायदे।

क्या मोटापे की वजह से कपडे जचते नहीं ? तो जानिए कूल और हैंडसम दिखने का तरीका

Like & Share: @roundbubble

 

 Back to Top