भूलकर भी न करे ब्रेन ट्यूमर के संकेत इग्नोर

भूलकर भी न करे ब्रेन ट्यूमर के संकेत इग्नोर

आज के इस लेख में हम आपको बताने वाले है की ब्रेन ट्यूमर के क्या क्या संकेत है। अगर किसी को ऐसे संकेत है तो समय रहते डॉक्टर को संपर्क जरूर करे। अगर समय रहते ब्रेन ट्यूमर का इलाज शुरू कर दिया जाये तो इस बीमारी को ठीक किया जा सकता है।  और किसी की जान बच भी सकती है। ब्रेन ट्यूमर जिस तरह अलग शपेस और साइज के होते है उसी तरह इसके सिस्टम्स होते है।

कहा जाता है की अगर ट्यूमर आपके ब्रेन के एक दम पास है तो यह आपके आर्म और आईसाइट को इफ़ेक्ट करता है।  इसी के साथ आपको धुंधला दिखना शुरू हो जाता है। और जोड़ो में दर्द भी होता है।  लेकिन अगर डॉक्टरों की सलाह माने तो इसके कुछ कॉमन सिम्पटम्स भी है। जिसके चलते आप इस बीमारी को पहचान सकते है।

कैसे होता है ब्रेन ट्यूमर ?

जब शरीर में बनने वाली सेल्स कुछ समय के बाद नष्ट हो जाते है।  तो गौरतलब है की उनकी जगह नए सेल्स बनने लग जाते है। यह एक की साधारण प्रक्रिया है। लेकिन जब यह प्रक्रिया बाधित हो जाती है तो उसकी जगह ट्यूमर सेल्स बनने लगती है। ट्यूमर के  बनने के कई कारण होते है।

यह रोग विशेष प्रकार के विषाणु के संक्रमण से, प्रदूषित पदार्थो का सांस लेने के साथ शरीर के अंदर चले जाने से यह सेल्स इकट्ठा होकर टिश्यू बनाती हैं। ये सेल्स मरती नहीं हैं और इसलिए समय के साथ ट्यूमर भी बढ़ता जाता है। ट्यूमर मस्तिष्क के जिस क्षेत्र में बनता है, उस क्षेत्र के कार्य करने की प्रक्रिया बाधित हो जाती है।

ब्रेन ट्यूमर के क्या लक्षण है ?

शरीर के किसी भी हिस्से का अचानक सुन्न जाना

फेस या बॉडी के किसी भी हिस्से का सुन्न हो जाना। ब्रेन ट्यूमर होने पर ऐसा होता है।

चक्कर आना

किसी भी प्रकार का ब्रेन ट्यूमर हो इसका पहला संकेत सीजर होता है। इसमें अचानक से ब्रेन में बिजली जैसी चमकती है और चक्कर आते हैं। इसमें कभी पूरी बॉडी अकड़ सकती है तो कभी झटके लग सकते हैं, तो कभी अचानक से बॉडी झुक या मुड़ सकती है।

उल्टी आना

उलटी आना भी ट्यूमर के संकेतो में से  है।

भूल जाना बातो को

जब कोई बात आपको याद ना रहे।  जल्दी भूलने लग जाये तो यह भी ब्रेन ट्यूमर का संकेत हो सकता है।  अगर आपके साथ भी ऐसा कई बार होता है तो एक बार डॉक्टर से जरूर संपर्क करे।

विजन चेंज होना

ब्लर या डबल विजन या कम दिखाई देने लगना भी ब्रेन ट्यूमर का संकेत है। बोलने और निगलने में परेशानी होना। फेशियल एक्सप्रेशन चेंज होने पर डॉक्टर से कंसल्ट करना चाहिए।

यह भी पढ़िए-

अगर लीवर में ख़राबी है तो आजमाए यह नुस्खा

इस ड्रिंक से पाए गुर्दे की पथरी से छुटकारा

अस्थमा के मरीजों के लिए घरेलु उपाय

गठिया, बवासीर, मिर्गी दमा, दंत रोग और साइटिका जैसी बीमारी को करे जड़ से ख़त्म- कायफल

 Back to Top