हिन्दू लड़की ने रखी शर्त, पहले अपना धर्म बदलो, फिर रचाओ शादी

हिन्दू लड़की ने रखी शर्त, पहले अपना धर्म बदलो, फिर रचाओ शादी

हाल ही में सूरत में एक बहुत ही अनोखा मामला सामने आया है। इसमें हिन्दू लड़की और मुस्लमान लड़के की कहानी है।वह हिन्दू लड़की मुस्लिम लड़के के साथ रिलेशनशिप में रही। उस हिन्दू लड़की ने सूरत के एक पुलिस स्टेशन में एक एफिडेविट दिया है।उस हिन्दू लड़की का ऐसा कहना है कि वह उस मुस्लिम लड़के से तभी शादी करेगी जब वह अपना धर्म बदलेगा। मुस्लिम से हिन्दू बन जायेगा और शाकाहारी बनेगा। हिन्दू लड़की की उम्र है 18 साल और 7 महीने है। जब मुस्लिम लड़के और हिन्दू लड़की की गुमशुदगी के मामले की जांच करते हुए उन्हें हिरासत में ले लिया। लड़की ने  पुलिस को एफिडेविट दे दिया।

1

इस बात का खुलासा 22 अप्रैल को हुआ जब यह प्रेमी जोड़ा नानपुरा मैरिज रजिस्ट्री ऑफिस शादी करने पहुंचे थे।  उसी टाइम वहा पर लड़की के घरवाले पहुंच गए।  दोनों वह से भाग निकले थे। जब इस कपल को सोमवार को पुलिस ने हिरासत में लिया तो उसके बाद में छोड़ भी दिया। और कहा कि दोनों की बालिग है और इन दोनों को अधिकार है अपने फैसले लेने का।  यह दोनों स्वतन्त्र है। लेकिन  उसके बाद में लड़की अपने परिवार के पास में लौट गयी थी।  और दूसरे दिन अपने परिजनों के साथ में पुलिस को एफिडेविट सौंपा।

जब पुलिस को लड़की ने एफिडेविट दिया तो उसमे लिखा गया था कि उसने उस मुस्लिम लड़के के साथ लिव-इन- रिलेशनशिप में रहने का कॉन्ट्रैक्ट साइन किया है।  उसने आगे यह बात भी कही कि वो उस मुस्लिम लड़के के साथ शादी करना चाहती है।  लेकिन शादी करने से पहले मुस्लिम युवक को कुछ शर्ते माननी पड़ेगी। उनमे से एक शर्त यह है कि उसे अपना धर्म परिवर्तन करना होगा और अपने माता पिता की मौजूदगी में हिन्दू धर्म स्वीकार करना पड़ेगा।

इसी के साथ में दूसरी शर्त यह है कि उसे ऐसा आश्वासन देना होगा कि भविष्य में कभी भी वह अपना धर्म नहीं बदलेगा। मुस्लिम लड़के को मांसाहार खाना हमेशा के लिए छोड़ना होगा और कभी उस लड़की को मांसाहारी खाना पकाने और खाने के लिए मजबूर नहीं करेगा।

2

सूत्रों के हिसाब से यह पता लगा है कि हिन्दू लड़की और मुस्लिम लड़का दोनों एक ही इलाके में रहते है। इन दोनों के बीच में 7 महीने पहले दोस्ती हुई थी। पेशे से मुस्लिम युवक एक म्यूजिकल बैंड में काम करता है।  वही दूसरी ओर हम बात करे लड़की की तो वह बीकॉम के दूसरे वर्ष तक पढ़ी हुई है और आगे पढाई छोड़ दी है।

इस बात कि भनक जब लड़की के माता पिता को पड़ी तो वह मुस्लिम लड़के के माता पिता से मिलने गए। और उनसे कहा कि वह अपने बेटे पर इस रिश्ते को खत्म करने के लिए दबाब बनाए। इस बात कि भी पुष्टि हुई है कि मुस्लिम युवक के घरवालों ने अभी तक इस रिश्ते को मंजूरी नहीं दी।  और उनने अपने बेटे को धमकी दी कि अगर वह उस हिन्दू लड़की से मिलेगा तो उससे रिश्ता तोड़ लगे।  लेकिन प्रेमी जोड़े ने परिवार के खिलाफ जाकर शादी का फैसला किया था।

Latest Article

 Back to Top