बिना सेक्स के पैदा होंगे बच्चे

बिना सेक्स के पैदा होंगे बच्चे

बिना सेक्स के पैदा होंगे बच्चे, मां-बाप चुन सकते हैं आंखों और बाल का रंग

यकीनन आपको जानकर हैरानी होगी, लेकिन एक स्टैन्फर्ड यूनिवर्सिटी के एक प्रोफेसर हैंक ग्रीली का कहना है कि अगले ३० सालो में बच्चे पैदा करने के लिए दम्पति को सेक्स करने की जरूरत नहीं है। जी हाँ, आने वाले सालो में बच्चे पैदा करने की प्रक्रिया काफी हद तक बदल जाएगी। अब बच्चे पैदा करने के लिए पेरेंट्स के पास सेक्स के अलावा और विकल्प होंगे।  पेरेंट्स अपने डीएनए के जरिये लैब में  तैयार किये गए भ्रूण का चुनाव अपनी पसंद के अनुसार कर सकते है। आपके लिए हम बता दे की प्रोफेसर  हैंक, स्टैन्फर्ड लॉ स्कूल के सेंटर फॉर लॉ ऐंड द बायोसाइंसेज के डायरेक्टर हैं।

हालाँकि,  आज भी बिना सेक्स के बच्चे पैदा किये जा रहे है लेकिन यह काफी महंगी है हर कोई इसे अपना नहीं सकता है।  लेकिन  हैंक का मानना है की आने वाले आने वाले समय में यह प्रक्रिया बेहद सस्ती हो जाएगी जिससे हर कोई इसे अपना सकता है।  पति पत्नी किसी  भी प्रकार की बीमारी के चलते नि:संतान की समस्या से नहीं गुजरेंगे। बिना सेक्स के बच्चे पैदा करने की प्रक्रिया के लिए फीमेल स्किन का सैंपल लेकर पहले तो स्टेम सेल बनाया जाता है। सामान्यता, इस स्टेम सेल का इस्तेमाल अंडे को बनाने में होता है। इस प्रकिया की खास बात यह है कि दम्पति अपने आने वाले बच्चे के आंखों का और बालों का रंग तक चुन सकते ।

प्रोफेसर हैंक के अनुसार, यह प्रक्रिया उन दम्पति के लिए वरदान है जो किसी बीमारी के रहते  माता-पिता नहीं बन पा रहे है।

प्रोफेसर हैंक कहते हैं, इस प्रक्रिया की वजह से सबसे ज्यादा तलाक होंगे क्योंकि पत्नी को भ्रूण नंबर 15 चाहिए होगा और पति को भ्रूण नंबर 64. इस मामले में फैसला लेना दोनों पार्टनर के लिए काफी मुश्किलों भरा होगा।

निर्णय लेना सबसे मुश्किल तब होता है जब किसी भ्रूण में किसी एक बीमारी की आशंका कम और किसी दूसरी बीमारी की आशंका ज्यादा होगी लेकिन उसे संगीत में महारथ हासिल होगी। ये पैरंट्स के लिए गुड लक की  बात है।

प्रजनन के लिए सेक्स, यूएस में हैंक की यह स्टडी आर्काइव्स ऑफ सेक्शुअल बिहेवियर में इसी साल मार्च में पब्लिश हुई थी जिसमें पाया गया कि सेक्स की फ्रीक्वेंसी में अभी से कमी आ गयी है। रिसर्च के मुताबिक यूएस में साल 1990 में शादीशुदा लोग एक साल में 73 बार सेक्स करते थे जबकि 2014 में एक साल में सेक्स करने की संख्या घटकर 55 हो गई है. तो वहीं सिंगल लोग एक साल में 59 बार सेक्स करते हैं।

Source :  www.india.com

Tags: , ,
 Back to Top