कैसे हुई अप्रैल फूल की शुरुआत?-1अप्रैल

कैसे हुई अप्रैल फूल की शुरुआत?-1अप्रैल

आज है 1 अप्रैल।  जैसा की हम जानते है आज के दिन यानी के 1 अप्रैल के दिन कई देशो में मुर्ख दिवस के रूप में मनाया जाता है। अप्रैल के शुरुआती हफ्ते को तो ऐसा माना जाता है जब लोग आपस में व्यवहारिक मजाक और मूर्खतापूर्ण हरकते करते है। जैसा की हम जानते है अप्रैल फूल को लेकर हर देश में अलग अलग चलन है।  सेलिब्रेट करने का तरीका भी अलग अलग होता है।  लेकिन इस बात से कोई वाकिफ नहीं है कि आखिर अप्रैल फूल का इतिहास क्या है और इसकी शुरूआत आखिर कहा से हुई और किसने की।

हर देश की अलग कहानी

इस दिन को लेकर बहुत सी कहानिया प्रचलित है। अगर हम एक नजर इतिहास पर डालते है तो इस दिन बहुत सी घटनाये हुई थी। जिसके चलते अप्रैल को अप्रैल फूल डे के तौर पर मनाया जाता है। सूत्रों के मुताबिक यह पता लगा है कि अप्रैल फूल डे की शुरुआत फ्रांस से हुई थी और 1582  में हुई थी। कहा जाता है कि इस दिन पोप चार्ल्स 9 ने पुराने कैलेंडर की जगह नया रोमन कैलेंडर शुरू किया है।

कुछ लोगो का ऐसा भी मानना है कि इस दौरान कुछ लोग पुराने तारीख पर ही नया साल मनाते रहते थे इसलिए उन्हें ही अप्रैल फूल कहा गया था। जैसा की हम जानते है कि अप्रैल फूल डे को लेकर अलग अलग कहानिया प्रचलित है। कई रिपोर्ट्स का तो ऐसा भी कहना है कि इसकी शुरुआत 1392 में हो चुकी थी।  लेकिन इसका अभी तक कोई पुख्ता सबुत नहीं मिला है।

अगर हम बात करे कुछ और रिपोर्ट्स की तो यह भी सामने आया है कि साल 1508 में एक फ्रांसीसी कवि ने एक प्वाइजन डी एवरिल (अप्रैल फूल) का सन्दर्भ दिया था। हालांकि साल 1508 में एक फ्रांसीसी कवि ने एक प्वाइजन डी एवरिल (अप्रैल फूल) का सन्दर्भ दिया था। इस तरह की बहुत सी कहानियां है जो कि अप्रैल फूल दिवस से जुडी हुई है।

Latest Article

 Back to Top