गर्भवती महिला को करना चाहिए इनसे परहेज

गर्भवती महिला को करना चाहिए इनसे परहेज

गर्भावस्था महिलाओं के लिए एक खूबसूरत पल होता है जिसका सबको  इंतजार होता है. ऐसे खास पल पर  महिलाओ को अपने स्वस्थ का ध्यान रखना चाहिए। महिलाओ के अच्छे और बुरे स्वस्थ का सीधा असर बच्चे पर पड़ता है. यही कारण है महिलाओ का गर्भावस्था के दौरान ज्यादा ध्यान रखा जाता है और उनको पौष्टिक आहार दिया जाता है. जो महिलाओं को स्वस्थ रखने में मदद करता है साथ ही बच्चे का स्वास्थ भी अच्छा होता है.

स्वस्थ और तंदुरुस्त बच्चे के लिए एक माँ को गर्भावस्था के दौरान खान पान का ध्यान रखना पड़ता है क्यों की बहुत बार  महिला ऐसी चीजों का सेवन  करती है जिसका सीधा असर बच्चे के स्वस्थ पर पड़ता है लेकिन  हम लोग इन चीजों से अवगत नहीं होते है.

कई  बार महिला ऐसी चीजों का सेवन करती है जिससे गर्भपात का खतरा बना रहता है जैसी की पपीता। पपीता का सेवन शुरूआती दिनों में करने से गर्भपात का खतरा काफी बढ़ जाता है. तो चलिए जानते है   किस किस से करना चाहिए परहेज।

कच्चे दूध के सेवन से बचे

वैसे तो दूध का सेवन हमारी सेहत के लिए काफी फायदेमंद होता है इसने कैल्शियम और प्रोटीन भरपूर मात्रा में होता है जिससे स्वस्थ अच्छा रहता है लेकिन  गर्भावस्था में कच्चे दूध का सेवन करना बच्चे और माँ के लिए हानिकारक साबित हो सकता है. इसलिए कभी भी कच्चे दूध का सेवन नहीं करना चाहिए। 

पपीता का सेवन नहीं करे

पपीता का सेवन करने से गर्भपात का खतरा बढ़ सकता है पपीता में विटामिन c  प्रचुर मात्रा में  होता है  जिससे कारण  गर्भपात होने की संभावना बढ़ जाती है. खासकर के शुरूआती ३ महीनो तक पपीता का सेवन नहीं करना चाहिए।

मछली का सेवन नहीं करे

मछली में मर्करी मौजूद होता है जो ना ही सिर्फ बच्चे के विकास को धीमा करती है बल्कि उसके  मस्तिष्क को नुकसान भी पहुंचा सकती है इसलिए जितना  हो सके गर्भावस्था में महिलाओ को कभी भी मछली का सेवन नहीं करना चाहिए।

कटहल का सेवन नहीं करे

कटहल  में विटामिन प्रचुर मात्रा में पाया जाता है जिससे गर्भवती महिला के लिए खतरा बन जाता है.  इसके सेवन से कई सारी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है.

अधपका मांस का सेवन नहीं करे

हालाँकि पूरा और अच्छी तरह से पक्का हुआ मांस सेहत को खराब नहीं करता है लेकिन  वो ही कच्चा मांस सेहत को ख़राब कर सकता है.

अनानास का सेवन नहीं करे

अनानास के सेवन से सीधा असर बच्चे के विकास पर पड़ता है क्यों की इसमें विटामिन स मौजूद होता है।

इलायची का सेवन नहीं करे:

इलायची काफी गर्म होती है जो शरीर को गर्म कर देती है इसलिए हो सके तो इलायची का सेवन नहीं करना चाहिए। अगर आप सेवन करते है तो दिन में ३ बार से ज्यादा सेवन नहीं करे नहीं।

बैंगन का सेवन नहीं करे

बैंगन के सेवन से गर्भपात होने का ख़तरा रहता  इसलिए जहा तक हो सकते बैगन के सेवन से परहेज करे.

खजूर का सेवन नहीं करे 

गर्भवस्था के शुरुआती दिनों में खजूर का सेवन करने से बचे.

कैफीन का सेवन कम  करे

प्रेग्नेंसी के दौरान, चाय कॉफी का सेवन काफी कम मात्रा में करना चाइये। कॉफी  के सेवन से बच्चे का स्वस्थ बिगड़ सकता है.

आम का सेवन कम  करे

वैसे  तो आम को फलो का राजा कहा जाता है लेकिन  इसके सेवन करने से  स्वास्थ पर असर पड़ता है.  इसलिए शुरुआत के दिनों में आम खाने से बचना चाहिए।

Tags: , , , ,
 Back to Top