क्या आप जानते हैं, घंटी बजाने के पीछे का रहस्यमयी कारण

क्या आप जानते हैं, घंटी बजाने के पीछे का रहस्यमयी कारण

हिन्दू धर्म संस्कारो से भरा हुआ है। कई काम ऐसे है जो हम रोज करते है लेकिन शायद ही हम में से किसी ने ऐसी चीजों पर गौर फ़रमाया हो।  आज हम आपको एक ऐसी ही बात बताने जा रहे है जो हम हमेशा करते है लेकिन कभी भी इसके पीछे का रहस्य जानने की कोशिश नहीं करी। वैसे ही जब भी हम मंदिर जाते वहा पर घंटी की आवाज सुनाई देती है साथ ही हम भगवान के दर्शन से पहले घंटी बजाते है।  लेकिन क्या आपने कभी सोचा की आखिरकार ऐसा क्यों किया जाता है और ऐसा करने से क्या फायदा मिलता है।

मंदिर में घंटी  बजाकर भगवान के दर्शन करने की परम्परा बहुत ही प्राचीन है।  प्राचीन समय से हम इस परम्परा को निभाते आ रहे  है लेकिन इसके पीछे का कारण बहुत ही कम जानते है तो आईये  जानते है उस खास वजह को जिसके कारण मंदिर में घंटी बजायी जाती है।

इसके पीछे का कारण है की जिस स्थान पर घंटी की आवाज आती है या नियमित रूप से घंटी का उपयोग किया है वहा पर नकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह नहीं होता है। और पवित्रता का अनुभव होता है।

बुरी शक्तिया आसपास  नहीं भटकती है। यही कारण है की मंदिर और घर में पूजा के दौरान घंटिया बजाई जाती है।  जिससे शांति और दैवीय शक्ति का अनुभव होता है। प्राचीन काल से लोगो का ये मानना है की घंटी बजाने से मंदिर में स्थापित देवी देवताओ को मूर्तियों में चेतना जागृत होती है।  घंटी के बाद देवताओ की पूजा करने से आराधना अधिक फलदायी और प्रभावशाली बन जाती है।

Tags: , , ,
 Back to Top