सोनचिड़िया मूवी रिव्यु

सोनचिड़िया मूवी रिव्यु

 

  • फिल्म: सोनचिड़िया
  • कलाकार: भूमि पेडनेकर, सुशांत सिंह राजपूत, मनोज वाजपेयी, आशुतोष राणा, रणवीर शौरी
  • निर्देशक: अभिषेक चौबे
  • मूवी टाइप: ड्रामा, एक्शन, क्राइम

फिल्म सोनचिड़िया की कहानी-

सोनचिड़िया  फिल्म ने अपना स्टाइल फॉलो किया है। इस फिल्म में ज्यादातर ऐसे  लोगो को दिखाया गया है जिन्हे पापी माना जाता है। इस  फिल्म की कहानी उन लोगो की है जो बगावत और मौत के सामने खड़े हुए उनके दिमाग में  क्या चल रहा है। इन्ही सब बातो के इर्द गिर्द यह फिल्म बनी है। सोनचिड़िया फिल्म मध्य प्रदेश की भीड़ में बनी एक फिल्म है।

इस फिल्म के जरिये अभिषेक ने  इस बात पर ध्यान खींचने की कोशिश की है कि क्या सही है और क्या गलत है।इस बात को जाहिर करने के लिए अभिषेक ने बहुत अच्छे तरीके से किरदारों का इस्तेमाल किया है। इस फिल्म  मान सिंह की भूमिका मनोज बाजपेई निभा रहे है। वकील की भूमिका रणवीर शौरी कर रहे है एवं भगवान में विश्वास रखने वाले डाकू लखना की भूमिका सुशांत सिंह राजपूत निभा रहे है।  सुशांत का किरदार ऐसा है जिसमे में वो अपने जीवन जीने की वजह ढूंढते रहते है और अपने ही वजूद पर बार बार सवाल उठाए जाते है।

यह फिल्म डकैत, पुलिस, लड़ाई एवं बार बार हमले जैसी चीज़ो से भरी होने के बाद भी यह फिल्म अपराध बेस्ड नहीं है। बजाय उसके यह अपराध करने वाले अपराधियों के हालत की कहानी है। इस फिल्म में यह देखना बहुत दिलचस्प होगा कि अपराधी अपने अंदर के विलेन को दबा पाते है या फिर उनके अंदर का विलेन उनके ऊपर हावी हो जाता है।इसी के साथ इस फिल्म में प्रकृति के नियम को भी दर्शाया गया है। जिसे हम कर्मा भी कहते है। कि किस तरीके से सांप चूहे का शिकार करता है और सांप का शिकार बाज करता है।

इस फिल्म को देख के आप  अच्छे से समझ जायेगे कि मारने वाले को भी एक दिन मरना पड़ता है। रूढ़िवादी सोच को बहुत अच्छे से अभिषेक चौबे की फिल्म सोनचिड़िया में देखा जा सकता है।  फिल्म में जाति प्रथा, पितृसत्ता, लिंग भेद  अन्धविश्वास को दिखाया गया है। बदला लेना और न्याय में क्या अंतर है यह बात भी फिल्म  देखकर साफ़ पता लग जाएगी। विशाल भारद्वाज और रेखा भारद्वाज की आवाज में म्यूजिक फ़रमाया गया है। दोनों की आवाज से किरदारों के अंदर चल रहे तुफानो को अच्छे से पर्दे पर लाने में सफल रहे।

फिल्म में स्पेशल अपियरेन्स से ही मनोज बाजपेई ने साबित कर दिया कि वह एक उम्दा कलाकार है। सुशांत सिंह राजपूत ने भी लखना का किरदार बखूभी निभाया है। सुशांत की अदाकारी तारीफे काबिल है। भूमि का किरदार एक बहादुर महिला का है। जो किरदार की डिमांड थी उसके लिए भूमि एक दम सही कलाकार है। जिन्होंने दिल से सराहनीय काम किया है।

Latest Article

May 16, 2019 11:14 am
 Back to Top