एक स्टडी में सामने आया कि चाय के शौकीन होते है क्रिएटिव

एक स्टडी में सामने आया कि चाय के शौकीन होते है क्रिएटिव

जो लोग चाय के दीवाने होते है वह लोग चाय पीने का मौका कभी भी नहीं छोड़ते है। ऐसे लोगो को बस चाय पीने का बहाना चाहिए  होता है।  इन लोगो को गॉसिप करनी हो या फिर काम से ब्रेक लेना हो इनको अपने साथ में चाय चाहिये होती है।  हाल ही में पर्किंग यूनिवर्सिटी ने ऐसा दावा किया  कि चाय पीने से लोगो की ध्यान केंद्रित करने क्षमता ज्यादा बढ़ जाती है।  इसी के साथ उनकी क्रिएटिविटी भी बेहतर होती है।

आखिर चाय पीने से कैसे फोकस बढ़ जाता है?

इस बात से सब वाकिफ है चाय में कैफीन और थियनाइन मौजूद है। यह दोनों चीज़े अलर्टनेस बढ़ाने में मदद करता है। हाल ही में हुई एक स्टडी के मुताबिक पता लगा है कि एक कप चाय का पीने से बाद कोई भी इंसान दिमाग में चुस्ती महसूस कर सकता है।मनोवैज्ञानिकों की एक टीम ने 50 स्टूडेंट्स पर एक स्टडी की जिनकी औसतन उम्र 23 साल थी।

आधे छात्रों को पीने के लिए पानी दिया गया जबकि आधे छात्रों को ब्लैक टी पीने के लिए दी गई।फूड क्वॉलिटी ऐंड प्रिफरेंस जर्नल में प्रकाशित स्टडी में कहा गया कि दिन में चाय पीने से क्रिएटिविटी का स्तर बढ़ जाता है। स्टडी के मुताबिक, इस अध्ययन से यह समझने में मदद मिल रही है कि चाय जैसी ड्रिंक का लोगों की संज्ञानात्मक क्षमता पर कैसा प्रभाव पड़ता है।

Latest Article

 Back to Top