फिल्म रिव्यु – सुई धागा

फिल्म रिव्यु – सुई धागा

शरद कटारिया के निर्देशक में बनी फिल्म सुई धागा। जिसमे मुख्य किरदार की भूमिका अनुष्का शर्मा और वरुण धवन निभा रहे है। यह कहानी ड्रामा और रोमांस की है। यह एक मिडिल क्लास परिवार की कहानी है।  एक ऐसे परिवार की, जिसके खाने के लाले पड़ रहे है।  इस फिल्म में अनुष्का शर्मा ममता का किरदार निभा रही है।  एवं वरुण धवन मौजी का किरादर निभा रहे है।

इस फिल्म में वरुण धवन अपने मालिक काम छोड़ के अपना बिज़नेस शुरू करने का फैसला करता है। इस कहानी को हम फॅमिली ट्रायंगल भी कह सकते है। अपनी रोजाना की परेशानियों से झूझने के बाद भी मौजी हमेशा कहता है “सब ठीक है, सब ठीक है”। मौजी की पत्नी ममता हमेशा घर के कामो में फसी रहती है, और अपने पति को समय नहीं दे पाती है।  इस फिल्म में बहुत सा मसाला देखने को मिलेगा।  चाहे वो मौजी की निजी समस्याए हो, उसके मालिक की न रुकने वाली डाट हो, या उसके बिज़नेस की बाते हो और दखना बड़ा रोमांचक होगा मौजी के पिताजी को जिनकी नाक पे हमेशा गुस्सा होता है।

सुई धागा फिल्म में रोमांस ना करके भी प्यार दर्शाया गया है। यह फिल्म कई किरदारों के आस पास घूमती है। अगर हम वरुण धवन की एक्टिंग की बात करे तो उन्होंने बहुत ही ईमानदारी और सच्चाई से अपना रोल निभाया है।  एवं दूसरी और अनुष्का शर्मा का भी कम मेकअप और सादगी वाला किरदार मनभावन है। इस फिल्म को 5 में से 3.5 रेटिंग मिली है। यह फिल्म घरेलु उद्योग को ध्यान में रख कर बनाई गई है। कैसे बड़े बाज़ारो में छोटे कारीगरों के साथ अन्याय होता है, इस फिल्म में दखने को मिलेगा। इस फिल्म को देख सकते है।

Tags: , ,
 Back to Top